समाजवादी पार्टी के विधायकों और कार्यकर्ताओं का कानपुर नगर निगम पर हल्ला बोल

Spread the love

लोकल वाॅइस न्यूज़… 

आम जनता की आवाज

कानपुर : समाजवादी पार्टी के विधायकों और कार्यकर्ताओं का कानपुर “नगर निगम पर हल्ला बोल “

आज दिनांक 15.10.2020 को *आर्यनगर विधायक अमिताभ बाजपेई* ने नगर निगम कानपुर की जन विरोधी नीतियों से उपजे जन आक्रोश को लेकर 9 बिंदुओं पर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन ए.डी.एम. सिटी को सौंपा।
1- सफाई कर्मियों की कालोनी स्वामित्व
2-सफाई कर्मियों की भर्ती व नियमतिकरण


3- नगर निगम किराया दुकानदारों की किराया वृद्धि यह माननीय उच्च न्यायालय की अवमानना भी है। हम सब फिर से कमेटी बनाकर किराया पुनःनिर्धारण किये जाने की मांग करते हैं।

4- ठेला/पटरी/ रेहड़ी दुकानदारों पर फेरी नीति का अनुपालन।
5- हाऊस टैक्स की अनाप-शनाप बढोत्तरी
6- विज्ञापन नियमावली के अभाव में वसूली।
7- आवारा जानवरों पर नियंत्रण
8- कूड़ा उठान/मार्ग प्रकाश- मार्ग प्रकाश व कूड़ा उठान हेतु पर्याप्त संसाधन लगाये जायें।
9- बिना विकल्प चट्टे उजाड़ना- हम समुचित विकसित विकल्प उपलब्ध कराने के बाद चट्टा हटायें जाने की मांग करते है।

मुख्यमंत्री से मांग करी नगरनिगम कानपुर के अधिकारियों की निरंकुशता पर अंकुश लगायेंगे।

*अमिताभ बाजपेई* ने अपने बयान में कहा कि नगर निगम में इस समय हर तरफ लूटने की होड़ मची है। नगर निगम डकैतों की तरह काम कर रहा है। ऐसा लगता है की यहां कानून का राज नहीं है। यहां वहीं होगा जो सरदार कहेगा। सरदार सिर्फ लूटने की नीतियां बना रहा है। चाहे सफाईकर्मियों का मामला हो,

आउटसोर्सिंग कर्मचारी भर्ती करने के नाम पर पैसें की लूट हो रही है। जन्म-मृत्यु प्रमाणपत्र बनाने के नाम पर पैसे की लूट हो रही है। कूड़ा उठान हो नहीं रहा, सफाई शहर की हो नहीं रही। छोड़ो-पकड़ो की नीति के आधार पर फैसला हो रहा है, किसी को पकड़ के पैसा लूट लेते है, किसी को छोड़ के पैसा ले लेते है। इसलिए नगर निगम लूट का, भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है। विज्ञापन की नियमावली तक है नहीं। फेरी नीति लागू नहीं, दुकानदारों का किराया बढ़ा दिया गया है। हाउस टैक्स बढ़ा दिया गया है। लागू सुविधाएं दी नहीं जा रही। इसलिए इस लूट के अड्डे को चेतावनी देने के लिए कि *यह गब्बर का रामगढ़ नहीं है यह आम जनता का कानपुर है, जनता उठ खड़ी होगी तो छोड़ के भागना होगा।* इस बातों के साथ में विधायक आर्यनगर व विधायक सीसामऊ
*इरफान सोलंकी* ने कहा कि लंबे समय तक हम समाजवादी लोग संघर्ष करेगें।

डा. लोहिया ने कहा था *जिस दिन सड़के सुनसान हो जायेगी, उस दिन संसद आवारा हो जायेगी।*

*जिंदा कौमे पांच साल इंतजार नहीं करती इसलिए समाजवादी लोग संघर्ष छेड़ने को तैयार हैं।*

*चंद्रेश सिंह* ने कहा- जब नगर निगम के अधिकारियों के रवैय्ये में सुधार नहीं आया तो हम नगर निगम की ईंट से ईंट बजा देगें।

साथ में विधायक सीसामऊ इरफान सोलंकी, नगर अध्यक्ष इमरान इदरीस, चंद्रेश सिंह, कुतुबुद्दीन मंसूरी, नीरज सिंह, मो. हसन रूमी, अम्बर त्रिवेदी,सर्वेश यादव, वरूण यादव, सम्राट विकास यादव, अशोक केसरवानी, पप्पन शर्मा, हाजी जिया

पार्षद- हाजी सुहैल अहमद, अभिषेक गुप्ता मोनू, मन्नू रहमान, अमित मेहरोत्रा बबलू, उमर शरीफ, जावेद अख्तर गुड्डू, मुरसलीन खां भोलू, लियाकत अली अर्पित यादव, मो. अली
पूर्व पार्षद- मो. सारिया (वि.स. अध्यक्ष), सुशील तिवारी, हरीओम पांडे आदि मौजूद रहे।

पालिटिकल एडिटर- अभिषेक गुप्ता

 

Shares
Total Page Visits: 170 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

error: Content is protected !!