वाणिज्यकर विभाग की कानपुर रेलवे स्टेशन के पार्सल गोडाउन पर छापा मार कार्यवाही

Spread the love

 

वाणिज्य कर विभाग ने मचाई , रेलवे स्टेशन पर खलबली

कानपुर :-: उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर में वाणिज्य कर विभाग के अधिकारी एक्शन में दिखे। वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों ने बीते दिन सोमवार को सेंट्रल स्टेशन पर मारा छापा। मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि रेलवे कि मालवाहक कार्य में गड़बड़ी की खबर वाणिज्य कर विभाग को मिली थी। जिस पर कार्रवाई करते हुए।वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों ने कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर धावा बोल दिया।

छापे के दौरान जहां एक बोगी का माल खोलकर रेलवे के कर्मचारियों ने पार्सलघर में पहुंचा दिया और वाणिज्य कर अधिकारियों को देने से इन्कार कर दिया तो एक अन्य पार्सल कोच की सील नहीं खोली। इस पर वाणिज्य कर विभाग ने भी उस पर अपनी सील लगा दी। इस पार्सल कोच को आगे कालका जाने से रोक दिया। रेलवे ने अलग कर उसे वहीं रोक लिया।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि वाणिज्य कर अधिकारियों को लखनऊ मुख्यालय से सूचना मिली थी कि हावड़ा से आ रही कालका मेल में रेडीमेड का बहुत सारा माल है जिस पर कर नहीं चुकाया गया है। विभाग की मोबाइल टीमों ने स्टेशन पर छापा मारा। इस बीच रेलवे कर्मचारियों ने एक पार्सल कोच खोल उसमें मौजूद 24 नग पार्सलघर पहुंचा दिए। तब वाणिज्य कर अधिकारियों ने लिखित रूप से रेलवे के अधिकारियों को दिया कि इन नग को उन्हेंं सौंप दिया जाए। वाणिज्य कर के संयुक्त आयुक्त डीके वर्मा ने बताया कि रेलवे ने इससे इन्कार कर दिया।

 

आपको बता दें रेलवे के द्वारा यह दलील पेश की गई कि जब इस माल को लेने वाले आएंगे, तो उनकी अनुमति के बिना इसे नहीं दिया जाएगा। इसके साथ ही जो पार्सल कोच अंत में लगा था, उसकी भी सील नहीं खोली। इस पर पूरी ट्रेन को जाने दिया गया लेकिन वह पार्सल कोच अलग कर रोक लिया गया। वाणिज्य कर अधिकारियों की दो टीमें स्टेशन पर बोगी के दोनों तरफ लगा दी गई हैं ताकि उससे माल न निकाला जा सके। अब इस पार्सल कोच को दोनों विभागों के अफसरों की मौजूदगी में खोलने की बात कही है। तो वहीं मंगलवार को इस पर कार्यवाही की गई। कार्रवाई के दौरान वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों ने कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन के पार्सल गोडाउन से 180 बोरी होजरी एवं 25 बोरे कंप्यूटर पार्ट्स के जिनका कोई कागज संपूर्ण नहीं मिला। जिस पर वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों ने सामान पर कार्रवाई करते हुए चालान काटकर जप्त कर लिया।

 

वही आपको बता दें कि वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मुताबिक बताया कि मुखबिर की सूचना थी कि ट्रेन कालका मेल जो दिल्ली से कानपुर आती उसी ट्रेन में होजरी और कम्प्यूटर पाटर्स लदे हैं। जिनका कोई भी कागज नही था। उसी की सूचना पर कानपुर के पार्सल गोदाम पहुंची जीएसटी की तीन ज्वाइंट कमिश्नर और 14 सचल दस्तों ने कार्रवाई करते हुए‌‌ । आज 205 बोरे बगैर जीएसटी के मिले जिनको 5 ट्रकों में लादकर जीएसटी अधिकारी अपने साथ ले गए।

रिपोर्ट अनुज जैन

Shares
Total Page Visits: 98 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

error: Content is protected !!