डफरिन अस्पताल के सभी डॉक्टरों कि मानवता शर्मसार हो गई है

Spread the love

योगी सरकार को पलीता लगा रहे महिला चिकित्सा जिला अस्पताल डफरिन गरीब आशाएं गर्भवती महिलाओं को लिखते हैं बाहर का अल्ट्रासाउंड

जहां एक ओर यूपी सरकार पूरी तरह से स्वास्थ्य सेवा को लेकर मुस्तैद नजर आ रही हैं वहीं डफरिन अस्पताल के डॉक्टरों का हाल बद से बत्तर नज़र आ रहे हैं कानपुर जिले के दूर-दूर क्षेत्रों से गर्भवती महिलाएं बड़ी उम्मीदों से डफरिन अस्पताल तो आती हैं लेकिन अस्पताल के हालात कुछ इस कदर है कि ना तो समय पर जांच हो सकती और ना तो समय से अल्ट्रासाउंड होता है और ना ही समय से डॉक्टर ओपीडी पर आते हैं

आप को बताते चलें कि डफरिन अस्पताल कि ओपीडी में चिकित्सक बाहर से गर्भवती महिलाओं का अल्ट्रासाउंड के लिए कहते है जबकि सरकारी अस्पताल में मौजूद मशीन का जिक्र तक नही करते जानबूझ कर निजी पैथालॉजी में अल्ट्रासाउंड के लिए कहते है। जबकि कई लोग गरीब तबके के भी सरकारी अस्पताल में आते हैं जिनके पास पैसा हो या ना हो उन्हें भी बाहर से ही अल्ट्रासाउंड करने के लिये कहा जाता है इस मुद्दे को जब के न्यूज़ रिपोर्टर को पता चला तो अल्ट्रासाउंड विभाग का जायजा लिया तो समय से पहले अल्ट्रासाउंड मशीनों को पैक कर डॉक्टर लापता हो जाते हैं।

इस पर जब अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉक्टर वी बी सिंह से बात करी गई तो उन्होंने योगी सरकार के ऊपर ही सारा मामला थोपते हुए बताया कि डाक्टरों की कमी है शासन को डॉक्टरो की कमी के लिए पत्र लिखकर भेजा गया है लेकिन इस पर अभी तक किसी ने ध्यान नहीं दिया है इस कारण अल्ट्रासाउंड हफ्ते में 3 दिन ही किया जाता है
मजबूरन गर्ववती महिलाएं बाहर से अल्ट्रा साउंड करा रही है, वही जब इस मामले को लेकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी से बात करी गई तो उन्होंने बताया कि डफरिन हॉस्पिटल के निर्देशक से मिलकर जल्दी ही इस समस्या का समाधान किया जाएगा यार अब यह देखने वाली बात होगी जिस तरीके से सरकार गरीब तबके के लोगों के लिए सरकारी सुविधाओं की बात कर रही है तो वहीं सरकार के ये जिम्मेदार नुमाइंदे उन्हीं के नियमों को पलीता करते हुए दिखाई दे रहे हैं ऐसे में अब देखना यह होगा कि नहीं इस खबर के चलने के बाद स्वास्थ्य विभाग इस मामले में क्या कार्रवाई करता है

रिपोर्ट राजन साहू

Shares
Total Page Visits: 106 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

error: Content is protected !!