23 बेघर हुए परिवारों को न्याय दिलाने के लिए, विधायक अमिताभ बाजपेयी और समाजवादी पार्टी के नेताओं का विशाल जन प्रदर्शन

Spread the love

लोकल वाॅइस न्यूज़

आम जनता की आवाज

कानपुर :- बेघर हुए परिवारों को इंसाफ दिलाने के लिए विधायक अमिताभ बाजपेयी और समाजवादी पार्टी के नेताओं का विशाल जन प्रदर्शन.. 

*कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन*।

*मा कर्मफलहेतुर्भूर्मा ते सङ्गोऽस्त्वकर्मणि*।।

जनप्रिय जनप्रतिनिधि विधायक अमिताभ बाजपेयी ने आज कुलीबाजार में बेघर हुए परिवारों को न्याय⚖ दिलाने के लिए विशाल प्रदर्शन किया.. 

पिछले 10 दिनों से बेघर हुए परिवार के लोग इस कड़कड़ाती ठंड में सड़कों पर रात गुजारने को मजबूर है, वही दूसरी तरफ प्रशासन के अधिकारी अपने आलीशान घरों में रात गुजार रहे हैं और अभी तक ना तो यूपी सरकार की तरफ से कोई मंत्री, कोई विधायक अभी तक पीड़ित परिवारों से मिलने तक नहीं आया और ना ही सरकार के कानों में अभी तक जूं तक नहीं रेंगी.. वही दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पीड़ित परिवारों से बात की, और लगातार समाजवादी पार्टी के विधायक अमिताभ बाजपेयी सरकार और प्रशाशनिक अधिकारियों को गहरी नींद से जगाने का कार्य पिछले कई दिनों से कर रहे हैं और आज भी आर्यनगर विधायक अमिताभ बाजपेई* के द्वारा *23 नवबंर की रात कुलीबाजार में साजिशन गिराये गये मकान से बेघर 23 परिवार व 18 दुकानदारों के पुर्नवास एवं मृतक के परिवार को मुआवजा, दोषी अधिकारियों को सजा दिलाये जाने के लिए घटना स्थल पर विशाल प्रदर्शन किया गया।*

प्रदर्शन के माध्यम से निम्नलिखित मांग की गई-

1- सारे बेघर परिवारों को सरकार की तरफ से आवास एवं 10 लाख का मुआवजा दिया जाये। बेशक उस रकम कि क्षतिपूर्ति मकान मालिक व बिल्डर से करी जाये।

2- कुख्यात बिल्डर विनोद जैन की समस्त बिल्डिंगों की जांच कराई जाये।

3- के.डी.ए /नगरनिगम /खनन विभाग के दोषी अधिकारियों की भूमिका की जांच कराकर सख्त कार्यवाही करी जाये।

4- मृतक के परिवार को 10 लाख मुआवजा दिया जाये।

23 नवंबर की रात कुलीबाजार थाना-अनवरगंज में एक मकान, बिल्डर, मकान मालिक व के.डी.ए. के अधिकारियों की मिलीभगत से गिरा दिया गया था। जिसमें 23 परिवार बेघर हो गये है। 18 दुकानदारों का व्यापार का स्थान चौपट हो गया था। तबसे लेकर के आजतक लगातार धरना-प्रदर्शन-आंदोलन के माध्यम से शासन-प्रशासन का ध्यान आकृष्ट करने का प्रयास हम लोगों द्वारा किया जा रहा हैं। परन्तु अफसोस पूंजीपतियों के हाथ का खिलौना बनी हुई सरकार ने कोई भी संज्ञान इस घटना का नहीं लिया। जबकि अबतक इन 23 परिवारों को बसाने को व उचित मुआवजा दिलाये जाने की व्यवस्था की जानी चाहिए थी। वर्तमान की सरकार क्षतिपूर्ति वसूलने, मकानों को गिराने आदि कार्यों की अभयस्त है। इसलिए उम्मीद करी जाती थी कि इन पूंजीपतियों से अथवा शासन अपने कोष से मदद करके इन गरीब लोगों को बसाने का काम करेगी। परन्तु अफसोस इस सरकार ने इस तरह का कोई कार्य नहीं किया। हमारी समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव जी ने घटना का संज्ञान लेते हुए, घटना में मृतक व्यक्ति के परिवार को 2 लाख रूपया मुआवजा अपनी ओर से दिया है। जबकि शासन की ओर से या बिल्डर, मकान मालिक की ओर से कोई भी मुआवजा अबतक नहीं दिया गया है।
हमलोगों ने क्रमबद्ध अनेक गांधीवादी तरीकों से गरीबों की आवाज पहुंचाने का असफल प्रयास किया। *लेकिन जब कुंभकर्णी नींद में सो रही सरकार के अधिकारी जागे नहीं तो समाजवादियों को सड़क पर प्रदर्शन करना पड़ा*
प्रदर्शन के दौरान विधायक अमिताभ बाजपेई ने कलेक्ट्रेट की तरफ कूच कर गये। पुलिस प्रशासन भीड़ रोकने में नाकाम रहा। मौके पर विधायक जी एवं उनके समर्थकों ने सड़क पर लेटकर मूलगंज चौराहे पर रूक कर ए.डी.एम. फायनेंस वीरेंद्र पांडे एवं एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल के निवेदन पर वार्ता की एवं 4 दिन का अल्टीमेटम देकर धरना प्रदर्शन समाप्त किया। अधिकारियों ने वादा किया 4 दिन में सभी वादे पूरे किये जायेंगे। विधायक जी ने चेतावनी दी अगर 4 दिन में मांग न पूरी हुई तो बिल्डर के होटलों में बेघर परिवारों को कमरों में रखेगें।

साथ में विधायक इरफान सोलंकी, नगर अध्यक्ष डा. इमरान,
आर्यनगर विधानसभा अध्यक्ष मो. सारिया,
मु. सि. यूथ बिग्रेड नगर अध्यक्ष-करूणेश श्रीवास्तव,
युवजन सभा नगर अध्यक्ष वीरेंद्र त्रिपाठी
महिला सभा की जिलाध्यक्ष दीपा यादव,
वरिष्ठ साथी- चंद्रेश सिंह, मो. हसन रूमी, कुतुबुद्दीन मंसूरी, अंबर त्रिवेदी, सर्वेश यादव, अनिल चौबे, हाजी जिया, आशू खान
पार्षद- अभिषेक गुप्ता मोनू, अमित मेहरोत्रा बबलू, उमर शरीफ, लियाकत अली, मुर्सलीन खान भोलू, मो. अली
पूर्व पार्षद- सुशील तिवारी, हरीओम पांडे एवं हजारों साथी मौजूद रहे।

लोकल वाॅइस न्यूज़.

पालिटिकल एडिटर- अभिषेक गुप्ता

Shares
Total Page Visits: 80 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

error: Content is protected !!